Radiation Kya Hai • Radiation Therapy in hindi • Radiation Se Kya Nuksan Hota Hai

दोस्तों हमने अपनी सुविधा के लिए कई प्रकार के उपकरणों को जन्म दिया है। लेकिन इसका सबसे बड़ा नेगेटिव इफेक्ट हमारे एनवायरमेंट पर हुआ है। जिसे हम Radiation effect कहते हैं। जिसके वजह से बहुत सारी पक्षियों की प्रजातियाँ नष्ट हो गई है और हाँ मानव की कोशिका पर भी इसका प्रभाव बहुत बुरी तरीके से पड़ा है। इसीलिए आज हम आपके सामने एक नई जानकारी के साथ हाज़िर हुए हैं जिसके बारे में जानना आपके लिए लाभदायक होगा।

दोस्तों तो आज हम इस पोस्ट में रेडिएशन यानी कि विकिरण पर बात करेंगे। इसमें हम जानेंगे कि विकिरण होता क्या है। यह कैसे उत्पन्न होते हैं और उसके हमारे दैनिक जीवन में क्या-क्या उपयोग है। तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े।


Radiation Kya hai • Radiation Therapy in hindi • Radiation Se Kya Nuksan Hota Hai

Radiation effect क्या होता है ?

Radiation यानी कि विकिरण एक ऐसी ऊर्जा के स्त्रोत से आती है जो प्रकाश की गति से अंतरिक्ष की यात्रा करती है। इस ऊर्जा में एक विधुत क्षेत्र और उससे जुड़ा एक चुंबकीय क्षेत्र होता है और इसमें तरंग जैसे गुण होते हैं। आप विकिरण को विधुत चुंबकीय तंरगे भी कर सकते हैं। यह एक ऐसी ऊर्जा होती है जो तरंगों के सहारे चलते हैं जिन्हें कई नामों से जाना जाता है। जैसे :- Radio waves आदि। हमारे आसपास कई प्रकार के तत्व पाए जाते हैं जिसमे से कई प्रकार की किरणें या ऊर्जा निकलती है। इसी ऊर्जा या तरंगों रेडियोधर्मी तरंगे या रेडियोधर्मी ऊर्जा कहा जाता है। और wireless संचार के लिए उपयोग की जाने वाली प्रकास, ऊष्मा और माइक्रोवेव और रेडियो तंरगे सभी विकिरण के रूप में होते हैं।

विकिरण में कण और विद्युत चुंबकीय तंरगे शामिल होती हैं। जो विभिन सामग्री द्वारा उत्तरजीस होती है और ऊर्जा उत्पन्न करती है। निचे जिस तरह के विकिरण की चर्चा की गई है उसे Ionizing विकिरण कहा जाता है। क्योंकि यह पदार्थ में आवेशित कणों या अयोनो का उत्पादन कर सकता है। X-ray, Gamma Rays, Alpha Particle, Beta Particle और neutron सभी Ionizing का ही विकिरण के उदाहरण है


Google Map New Features Transliteration for 10 Indian Languages - HINDI


प्राकृतिक पृष्ठभूमि वाले विकिरण -Natural Background Radiation

सूर्य से निकले हुए विकिरण ब्रह्माण्ड विकिरण या अंतरिक्ष से उत्पन्न विकिरण का एक प्रमुख स्त्रोत है ज्यादा ऊंचाई पर एयरलाइंस उड़ाने और स्किंग ऐसी गतिविधियाँ है जो इस ब्रह्मांड विकिरण के संपर्क में वृद्धि करेगी। कई इमारतें भी अधिकृत विकिरण का उत्सर्जन केवल इसलिए करती है क्योंकि उन्हें बनाने के लिए मिट्टी की ईट और सीमेंट जैसी सामग्री का उपयोग किया गया था। ये सामग्री मूल रूप से रेडियो धर्मी है। मतलब रेडिएसन पैदा करती है।



Radiation उतपन कैसे होता है ?

विकिरण वो ऊर्जा है जो तरंगों, विद्युत चुंबकीय विकिरण या उच्च गति वाले किरणों, Particulate के रूप में यात्रा करती है। Particulate radiation तब होता है जब एक रेडियोधर्मी परमाणु खंडित हो जाता है। आयनित विकिरण अस्थिर परमाणु द्वारा निर्मित होता है। स्थिर, परमाणु स्थिर, परमाणु से भिन होते है क्योंकि ऐस्थिर परमाणु में ऊर्जा या दरवेयमन या दोनों की अधिकता होती है विकिरण उच्च वोल्टेज उपकरणों जैसे कि x-ray मशीन द्वारा ही उत्पादित किया जा सकता है। स्थिर तक पहुंचने के लिए ये परमाणु अतिरिक्त ऊर्जा या दरवेयमन को छोड़ देते है। ये उत्सर्जित करते हैं।

दूसरी एयर रेडिएशन प्रकृति में भी मौजूद होता है यह मिट्टी में हवा में और पानी में और हम में भी पाया जाता है हम हर दिन में जो खाते हैं जो पानी पीते हैं और जिस हवा में हम सांस लेते हैं उस के माध्यम से इसका सामना करते हैं। ये उन सामग्री और वस्तुओं के निर्माण में भी है जिनका हम सामान्य तोर पर उपयोग करते हैं।



Radiation कितने प्रकार के होते है - Type of Radiation

दोस्तों इस विषय को जटिल ना बनाते हुए अगर थोड़ा सा सिंटफिक तरीके से देखें तो रेडिएशन को दो भागों में बांटा जा सकता है।


1. Ionizing Radiation

ये किसी भी पदार्थ में आयरन की मात्रा को बढ़ा देता है जो आपके सेल में मौजूद DNA को नुकसान पहुंचा सकती है क्योंकि ये Non-Ionizing रेडिएसन के मुकाबले ज्यादा पावर की होती है। क्योंकि इसमें इलेक्ट्रॉन्स बढ़ती या घटती रहती है। जिस कारण ये हमारे शरीर या अस पास के चीजों पर अपना अलग प्रभाव छोड़ती है। कुछ Ionizing रेडिएसन इतने ताक़तवर होते है की वो कैंसर कारक भी होते है इसके तीन प्रकार होते हैं Alpha, Beta और Photons


   a. Alpha Radiation - अल्फा रेडिएशन की गति प्रकाश की गति का केवल 10% होती है ये बहुत कमजोर रिलेशन है। यह बहुत पतली चीज को भी पार नहीं कर सकती है अगर किसी रेडिओएक्टिव साधन से अल्फारेज निकल रही है और उसके सामने एक कागज का टुकड़ा रख दिया जाए तो रेडिएशन उस कागज के टुकड़े को भी पार नहीं कर पाएंगे हलाकि अगर किसी भी तरह से ये रेज हमारे शरीर के अंदर पहुंच जाये तो ये बहुत ही घातक साबित हो सकती है हमारे लिए क्योंकि इसमें पॉजिटिव चार्ज होता है।

   b. Beta Radiation - बीटा रेडिएशन हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर सकता है। ये 0.2 से 1.3 सेंटीमीटर तक हमारे अंदर प्रवेश कर सकता है। अगर यह हमारी त्वचा पर ज्यादा देर के लिए लगातार केंद्रित रहेगा तो यह शरीर के कुछ हिस्से को जला सकता है। कोई भी ऐसी वस्तु जो 1.3 सेंटीमीटर से ज्यादा होती है उसे ये पार नहीं कर पाएगा जैसे:- दीवार आदि। इसकी गति प्रकाश की गति का 90% होता है तथा इसमें नेगेटिव चार्ज होता है।

   b. Photons Radiation - फोटोन्स रेडिएशन दो प्रकार के होते हैं। Gamma Radiation - गामा रेज की गति प्रकाश की गति के बराबर होती है ये शरीर के आर पार जा सकती है तथा इससे सबसे ज्यादा नुकसान होता है शरीर को इसमें कोई चार्ज नहीं होता है। और X Radiation - ये Gamma Radiation के मुकाबले कम ताक़तवर होते है।



हमारे जीवन पर Ionizing Radiation के क्या प्रभाव होता है ? - Effects of Ionizing Radiation on our Lives

दोस्तों Ionizing Radiation तब हानिकारक है जब ये अधिक मात्रा में शरीर पर पड़े इसके कुछ मुख प्रभाव इस प्रकार है


   a. यह हमारे शरीर के Cells, Tissus, Organ यहां तक कि पूरे शरीर पर प्रभाव डाल सकती है। जिससे शरीर के कई अंग हमेशा के लिए काम करना बंद कर सकते हैं या लम्बे समय तक खराब हो सकते है।

   b. ये हमारी DNA को खराब कर सकती है

   c. मानव शरीर में पानी की मात्रा सबसे अधिक होती है अगर ये रेज हमारे शरीर के पाचन लेवल पर प्रभाव डालती है तो यह हमारी हड्डियों को तोड़ सकती है।

   d. ये हमारे शरीर के रक्त cells पर प्रभाव डाल सकती है और ब्लड काउंट को घटा बढ़ा सकती है।

   e. कुछ और भी प्रभाव हो सकते हैं। जैसे:- स्किन का जलना, बालों का झड़ना आदि।



2. Non-Ionizing Radiation

यह रेडिएशन में कम पावर की होती है। क्योंकि इसमें से जितनी ऊर्जा निकलती है वह आर्यन की विकास के लिए पर्याप्त नहीं है जिस कारण यह मुख्यतः हमारे cells में मौजूद DNA को नुकसान नहीं पहुंचा पाती है इसीलिए ये कैंसर कारक नहीं है। इसमें कई प्रकार के चीजें शामिल है जैसे:- Light, Radar, Micriwaves और Radio Waves.



हमारे जीवन पर Non-Ionizing Radiation के क्या प्रभाव होता है ? - Effects of Non-Ionizing Radiation on our Lives

Non-Ionizing Radiation में भी कुछ ऐसे अपवाद होते है। जो हमें काफी नुकसान पहुंचा सकती है।

   a. Laser Light - cosmetic sergery में इसी laser light का इस्तेमाल किया जाता है। ये हमारी त्वचा को जला सकती है।

   b. Ultra-Voilet Rays - ये हमारे शरीर को कई प्रकार के नुकसान पहुंचा सकती है। cell bern या tenic इसके सबसे अच्छे उदाहरण है. अल्ट्रावायलेट रेज आंखों के लिए भी हानिकारक होती है। UV Rays से मोतियाबिंद की समस्या भी हो सकती है।

   c. Skin Cancer - Non-Ionizing Radiation से जो सबसे खतरनाक समस्या होती है वह है। skin cancer. Non-Ionizing रेडिएशन के प्रभाव कई कारकों पर निर्भर करते हैं। जैसे:- कितनी ऊर्जा का प्रयोग किया जा रहा है। माध्यम क्या है। और कितनी देर तक इस ऊर्जा का प्रयोग शरीर पर किया जा रहा है। पर्यावरण का प्रभाव आदि।



हमारे जीवन में Radiation का क्या फायदे है ?

दोस्तों ऐसा नहीं है कि रेडिएशन के केवल दुष्प्रभाव ही होते हैं। ये आज मानव के लिए कई रूपों में वरदान भी साबित हो सकता है। वो कहावत है ना की विशु विशु को काटता है कुछ इसी तरह अगर रेडिएशन के दुष्प्रभाव से कैंसर हो सकता है तो आपको यह जानकर खुशी होगी कि आज विज्ञान इतना आगे बढ़ गया है कि इसी रेडिशन के जरिए कैंसर का इलाज भी हो रहा है रेडिएशन थेरेपी कैंसर पीड़ित लोगों के लिए वरदान की तरह काम कर रहा है संसार में सामान्य रूप से शरीर में सेल्स उपस्थित होते हैं। जिन्हे नस्ट करने में रेडिएशन थेरेपी काफी काम में लाये जा रहे है। अगर सही तरिके से इस्तेमाल किया जाये तो हर चीज वरदान की तरह काम कर सकती है।



दोस्तों हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया होगा और रेडिएशन से संबंधित सारी जानकारी आपको इसमें मिल गया होगी। हमारी हमेशा से यही कोसिस रहती है की जिस भी विषय पर हम इस पोस्ट को लिखे उसमें सारी जानकारी दे सके ताकि आपको कही और जाने की जरूरत ना पड़े अगर आपके कोई सवाल या सलाह हो तो हमें कमेंट में जरूर बताएं। अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया है तो अपने दोस्तों को शेयर कीजिये। धन्यवाद !

Am2z Tm

Hello Guys My Name Is Sonu Kumar. I’m A Student • Blogger • YouTuber. In This Website We Share Legit and Original Content Related To Blogging, Tech News, SEO, Online Earnings, Tips and Tricks, Gaming News, YouTube So If You Like Over Content Then Also Share With Your Friends. Thank you !

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post

Android